Things we lost in the fire

आवारा हूँ ... ’आश्विट्ज़ के बाद कविता संभव नहीं है.’ – थियोडोर अडोर्नो. जर्मन दार्शनिक थियोडोर अडोर्नो ने द्वितीय विश्व युद्ध के बाद इन शब्दों में अपने समय के त्रास को अभिव्यक्ति दी थी. जिस मासूमियत को लव, सेक्स और धोखा की उस पहली कहानी में राहुल और श्रुति की... [पूरी पोस्ट]
writer मिहिर

अकेलापनfilmsनया सिनेमादिबाकर बनर्जी

views
15
upvote
0
downvote
1
rating
-1
comments
7
[27 Mar 2010 04:23 AM]

Free Vedic Astrology From Astrobix