संजय भारद्वाज की लघुकथा – बस इसलिए!

रचनाकार "पकड़ो-पकड़ो, चोर....।' सभास्थल पर फूल मालायें टांगनेवाला जोर से चिल्लाया। भीड़ आवाज की दिशा में मुड़ी .... फूलों का हार लेकर भागते दस-बारह वर्ष के मरियल से लड़के को धर लिया गया। अधिकांश ने उस पर हाथ साफ करना शुरू कर दिया था। अब तक भागता-हांफता फूलवाला... [पूरी पोस्ट]
writer Raviratlami

लघुकथा

views
13
upvote
1
downvote
0
rating
1
comments
2
[21 Mar 2010 10:34 AM]

Free Vedic Astrology From Astrobix